डिजिटल मार्केटिंग क्या है? [Digital Marketing Kya Hai]

Digital Marketing kya hai

Digital marketing Kya Hai? वेबसाइट, मोबाइल एप्लीकेशन, सोशल मीडिया, सर्च इंजन व अन्य इंटरनेट से जुडी हुई चीज़े को उपयोग में लेकर जब मार्केटिंग की जाती है तो उसे डिजिटल मार्केटिंग कहते हे। 1990 में जब इंटरनेट आया तभी से डिजिटल मार्केटिंग का नाम लोकप्रिय हो गया था।

अगर आप अच्छे से जानना चाहते है की डिजिटल मार्केटिंग क्या है, तो इस लेख को अंत तक पढ़े। वैसे तो हमारे सारे लेख अंग्रेजी में होते हे लेकिन आज सब कुछ हिंदी में समझाया है।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है - digital marketing kya hai

में इसे आपको सरल भाषा में समजाता हु। अगर आप YouTube या Google चलाते हे तो वहा आपने जरूर विज्ञापन देखे होंगे, यह डिजिटल मार्केटिंग ही है। किसी भी इंटरनेट डिवाइस पर विज्ञापन देना इसी को हम डिजिटल मार्केटिंग कहते है।

जितने भी विज्ञापन आप अपने मोबाइल पर देखते हो वो सब डिजिटल मार्केटिंग का ही एक हिस्सा है। भारत में Jio के आने के बाद इंटरनेट इस्तेमाल करने वालो की संख्या काफी बढ़ गयी है। यही कारण हे की डिजिटल मार्केटिंग फील्ड भी तेज़ी से बढ़ता जा रहा हे। हम आशा करते हे की आपको आपके प्रश्न डिजिटल मार्केटिंग क्या है का उत्तर मिला होगा।

डिजिटल मार्केटिंग के कई फायदे भी हे, जिसके बारे हम इस लेख में जानेंगे।

Table of Contents

    डिजिटल मार्केटिंग का लाभ (Benefits of Digital Marketing in Hindi)

    1) कम लागत में अच्छे परिणाम

    आज से दस साल पहले टी.वी., रेडियो, अख़बारों में विज्ञापन दिए जाते थे जो काफी महंगे होते थे। लेकिन आज डिजिटल मार्केटिंग एक काफी अच्छा तरीका हे जो कम लागत में अच्छे परिणाम देता हे। डिजिटल माध्यमों ने सभी प्रकार के व्यवसायों को एक समान मंच पर अपने ब्रांड का विज्ञापन देने के लिए एक अच्छा मौका दिया हे। यह छोटे व्यवसायों के लिए बहुत ही लाभदायक है।

    2) करियर विकल्प

    अगर आप डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करना चाहते हे तो इसके लाभों में से एक यह भी है कि आप सिर्फ एक जॉब प्रोफाइल तक सीमित नहीं रहते। अपना करियर शुरू करने के लिए आप डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कर सकते हैं जिससे आपके लिए नोकरी के कई रास्ते खुल जाएंगे।

    इस क्षेत्र में नौकरी के कई विकल्प हे, आप अपनी रूचि के अनुसार करियर का चुनाव कर सकते हे। अगर आप किसी बड़ी कंपनी में काम करना चाहते हे तो आपको जानकर ख़ुशी होगी कि गूगल, ट्विटर और फेसबुक जैसी बड़ी कंपनियां भी डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में रोजगार के अवसर प्रदान कर रही हैं।

    3) अच्छी कमाई

    डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करके आप अच्छी कमाई कर सकते हे। यदि आप व्यापर करना चाहते हे तो आप छोटी सी लागत में शुरू कर सकते हे और अपने व्यापर को बड़ा बना सकते हे।

    यदि आप नौकरी करना चाहते हे तो आपको अच्छा वेतन मिल सकता है। इस क्षेत्र में लोगो की मांग अब तेज़ी से बढ़ती जा रही है लेकिन काम करने वाले व्यक्ति काफी काम है। यही कारण है की डिजिटल मार्केटिंग में अच्छा वेतन दिया जा रहा हे।


    डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरूरी है?

    व्यवसायों और छात्रों के लिए डिजिटल मार्केटिंग का महत्व दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। हम आपको डिजिटल मार्केटिंग के महत्वपूर्ण होने के शीर्ष कारण बताएँगे। इंटरनेट के आगमन के बाद से हम सभी जगह बदलाव देख रहे हैं।

    इंटरनेट ने निस्संदेह खरीदारी और लोगों के साथ बातचीत करने के तरीके को बदल दिया है। सब कुछ तेज गति से हो गया है क्योंकि आप जो कुछ भी चाहते हैं वह आपके दरवाजे पर एक क्लिक के साथ दिखाई देता है।

    सब कुछ ऑनलाइन है

    अगर हम हमारे चारो तरफ देखे तो सभी लोग ऑनलाइन हे इसलिए डिजिटल मार्केटिंग ही एक मात्रा तरीका बचा है उन लोगो तक पहुंचने का। अगर हम कुछ रिपोर्ट्स की माने तो, भारत में 2026 तक 1 बिलियन स्मार्टफोन यूजर हो जायेंगे। जितने ज़्यदा मोबाइल यूजर बढ़ेंगे, डिजिटल मार्केटिंग की मांग भी वैसे ही बढ़ती जाएगी।

    यह सस्ता है

    डिजिटल मार्केटिंग लोगो तक अपना प्रोडक्ट पहुंचआने एक सस्ता जरिया हे। आज कोई भी बिज़नेस बहुत ही काम पैसो में अपनी मार्केटिंग कर सकता है। Facebook और Instagram जैसे प्लेटफार्म पर तो ₹८० से एड कैंपेन शुरू किया जा सकता है। कई बिज़नेस डिजिटल मार्केटिंग का इस्तेमाल करके सेअपने बिज़नेस के लिए सेल्स ला रहे है।


    डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार (Types of Digital Marketing in Hindi )

    नीचे डिजिटल मार्केटिंग के प्रकारों की लिस्ट दी गई है। वैसे तो डिजिटल मार्केटिंग कई प्रकार की होती है लेकिन हम छह महत्वपूर्ण प्रकार के बारे में बता रहे हैं।

    1) सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO)

    सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का मतलब है की किसी भी वेबसाइट को गूगल पर सबसे ऊपर लेकर आना जिससे की ज़्यदा से ज़्यदा लोग उसपर आ सके। जितने ज्यादा लोग आएंगे उतनी ही कमाई होगी।

    सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में Google द्वारा दिए गए गाइडलाइन्स का पालन करना होता हे। यह करने के लिए किसी भी प्रकार के धन की आवश्यकता नहीं हे। व्यक्ति अपनी मेहनत से वेबसाइट की रैंक ऊपर लेकर आता है। सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन डिजिटल मार्केटिंग का एक अहम् हिस्सा है।

    2) सोशल मीडिया मार्केटिंग (SMM)

    सोशल मीडिया मार्केटिंग डिजिटल मार्केटिंग का एक अहम् प्रकार हे। सोशल मीडिया मार्केटिंग का उपयोग, कंपनी के ब्रांड का निर्माण करने, सेल और वेबसाइट ट्रैफ़िक को बढ़ाने के लिए किया जाता हे।

    सोशल मीडिया मार्केटिंग, कंपनियों को मौजूदा कस्टमर के साथ जुड़ने और नए कस्टमर तक पहुंचने का एक अच्छा तरीका हे। इसके अलावा, सोशल मीडिया मार्केटिंग में ट्रैकिंग सुविधा भी उपलब्ध होती हे जिससे आप अपने कस्टमर को बार बार विज्ञापन दिखा सकते हो।

    3) सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM)

    सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM), इंटरनेट मार्केटिंग का एक रूप है जिसमें मुख्य रूप से भुगतान किए गए विज्ञापन के माध्यम से प्रचार किया जाता है। SEM में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) भी शामिल हो सकता है।

    SEO की तुलना में यह एक महंगा तरीका है लेकिन तुरंत रिजल्ट देता है। जब कोई व्यक्ति Google पर कुछ सर्च करता है, तो SEM आपको उस व्यक्ति को विज्ञापन दिखाने का अवसर देता हे। इससे आप के पास नए कस्टमर आते हे और व्यवसाय बढ़ता हे।

    4) ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing)

    ईमेल मार्केटिंग मेल के माध्यम से कस्टमर तक पहुंचने का एक तरीका हे। आज इतने सारे प्लेटफार्म बाजार में आगये हे लेकिन फिर भी ईमेल मार्केटिंग सबसे अच्छे परिणाम देता हे।

    यह डिजिटल मार्केटिंग का एक ऐसा तरीका हे जो कम पैसो में काफी सारे कस्टमर लाकर देता हे। ईमेल मार्केटिंग में आपको सभी ईमेल की पहले से योजना बनानी होती हे। ईमेल भेजने के लिए बाजार में कई ईमेल मार्केटिंग टूल उपलब्ध हे।

    5) कंटेंट मार्केटिंग (Content Marketing)

    कंटेंट मार्केटिंग एक ऐसे प्रकार की मार्केटिंग हे जिसमे लोगो को आकर्षित करने के लिए उपयोगी कंटेंट बनाया जाता। यह एक काफी कम लागत की मार्केटिंग का तरीका हे जिसमे अच्छा रिजल्ट मिलता हे।

    डिजिटल मार्केटिंग सैलरी

    Digital Marketing kya hai जान लेने के बाद अब बारी आती है मिलने वाली जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी जानने की, जो नीचे मौजूद हैं-

    जॉब प्रोफाइल्सभारत में औसत सालाना सैलरी (INR)
    डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर6-7 लाख
    सोशल मीडिया मैनेजर5-6 लाख
    पे पर क्लिक या SEM एनालिस्ट3-4 लाख
    कंटेंट मार्केटिंग स्पेशलिस्ट4-5 लाख
    SEO स्पेशलिस्ट4-5 लाख
    कंटेंट मार्केटिंग3-4 लाख

    डिजिटल मार्केटिंग का भविष्य (Future of Digital Marketing in Hindi)

    भारत सरकार डिजिटल इंडिया और स्टार्टअप जैसी नयी चीज़े ला रही है। यह डिजिटल मार्केटिंग नौकरियों को बढ़ावा दे रहा है। IMRB द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार – ‘भारत में ऑनलाइन विज्ञापन बाजार हर साल 30% से बढ़ रहा है। हर कंपनी को लीड बेचने या खरीदने के लिए डिजिटल मार्केटिंग की आवश्यकता होती है।

    अगर आप भविष्य में डिजिटल मार्केटिंग में अपना करियर बनाना चाहते हे तो इसमें काफी सारे विकल्प मौजूद हे। जैसे कि SEO एनालिस्ट, कंटेंट राइटर, सोशल मीडिया मैनेजर, आदि। इसलिए, डिजिटल मार्केटिंग एकमात्र ऐसा क्षेत्र है जिसमें कई करियर विकल्प हैं।

    • डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें आने वाले कुछ वर्षो में 20 लाख से भी ज़्यदा लोगो को रोजगार मिलने की उम्मीद है।
    • सरकार द्वारा भारतीय स्टार्टअप को समर्थन देने से डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में लोगों के लिए अधिक से अधिक रोजगार मिलने के मोके खुलेंगे होंगे।
    • डिजिटल मार्केटिंग विभिन्न अवसर प्रदान करता है। आप अपनी इच्छा अनुसार करियर का चुनाव कर सकते। हे
    • अगर आप को काम की समझ हे तो आप आप एक Freelancer बन सकते हे या अपना व्यापर शुरू कर सकते हे।
    • मांग-आपूर्ति में बहुत बड़ा अंतर है क्योंकि अधिक से अधिक कंपनियां या तो काम बाहर से कराती हे या अपनी खुद की डिजिटल मार्केटिंग टीम स्थापित करती हैं |

    डिजिटल मार्केटिंग में करियर केसे बनाये

    डिजिटल मार्केटिंग में करियर की शुरुआत करने के लिए आप एक डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कर सकते हैं। कोर्स खत्म करते ही आप किसी भी कंपनी में कुछ समय के लिए इंटर्नशिप करिए। इंटर्नशिप से आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।
    इंटर्नशिप पुरी होते ही आप या तो नोकरी कर सकते हैं या अपना व्यापार शुरू कर सकते हैं। अगर आप हमारे बताएं गए मार्गदर्शन पर चलते हैं तो आप डिजिटल मार्केटिंग में अच्छा करियर बना सकते हैं। ज़्यादा जानकारी के लिए आप ऊपर दी गई वीडियो देख सकते हैं।

    1 ) डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करे

    डिजिटल मार्केटिंग में करियर की शुरुआत करने के लिए आप कोर्स कीजिये। डिजिटल मार्केटिंग कोर्स एक अच्छा तरीका हे बेसिक्स सिखने का। आपको ऐसा कोर्स ज्वाइन करना चाहिए जो ना सिर्फ सिर्फ थ्योरी सिखाये बल्कि आपकी प्रैक्टिकल स्किल्स को भी सुधारे। अगर आप हमारे इंस्टिट्यूट पर कोर्स ज्वाइन करते हे तो हम आपको ४ महीने के ट्रेनिंग देंगे। क्लासेज रेगुलर होगी और आपको रोज होमवर्क दिया जायेगा। कोई भी परेशानी होने पर आप अपने टीचर से पूछ सकते हे।

    2) अच्छी कंपनी में इंटर्नशिप करे

    कोर्स खत्म होने के बाद आपको किसी अच्छी कंपनी में इंटर्नशिप करनी चाहिए। इंटर्नशिप खोजने के लिए आप Internshala जैसी वेबसाइट का उपयोग कर सकते हे। बहुत सी कम्पनीज इंटर्न्स को स्टिपेन्ड भी उपलब्ध कराती हे। इंटर्नशिप में आपको अनुभवी लोगो से सिखने को मिलेगा। आप कुछ ही महीनो में वो सब सिख सकते हे जो उन्हें सिखने में कई साल लग गए।

    3) डिजिटल मार्केटिंग में नौकरी करे

    इंटर्नशिप पूरी होने के बाद आपको क्या करना है वो आपका निर्णय है। आप आगे जॉब कर सकते है या फिर अपना बिज़नेस शुरू कर सकते हे। अपने करियर के शुरूआती समय में जॉब करना एक काफी अच्छा निर्णय होता हे। मेरी राय में तो आपको भी शुरुआत के १-२ साल नौकरी ही करनी चाहिए।

    निष्कर्ष

    आशा है कि आपको सबसे अधिक पूछे जाने वाले प्रश्न का उत्तर मिल गया होगा – Digital marketing kya hai? हमने डिजिटल मार्केटिंग के बारे में सब कुछ हिंदी में समझाया है। आप अपने विचार निचे कमेंट बॉक्स में जरूर शेयर करे। धन्यवाद।


    FAQs [Digital Marketing Kya Hai]

    Q. डिजिटल मार्केटिंग से आप क्या समझते हैं?

    किसी भी इंटरनेट से जुडी हुई डिवाइस का उपयोग करके जब प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग की जाती है तो उसे डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है।

    Q. क्या डिजिटल मार्केटिंग एक अच्छा करियर है?

    अगर आप मेहनत करने के लिए तैयार हैं तो डिजिटल मार्केटिंग एक बहुत ही अच्छा करियर है। आपको अपनी स्किल्स पर काम करना होगा। रोज नई छिजे सिखनी होगी। अगर आप ये सब करने को तैयार हैं तो आपके लिए एक बहुत ही अच्छा करियर बन सकता है।

    Q. डिजिटल मार्केटिंग केसे सीखे?

    डिजिटल मार्केटिंग सीखने के लिए आप हमारा 4 महीनों का डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कर सकते हैं। हमारे कोर्स को करने के बाद आप एक अच्छे डिजिटल मार्केटर बन सकते हैं।

    Q. क्या डिजिटल मार्केटिंग के लिए अंग्रेजी जरूरी है?

    डिजिटल मार्केटिंग के लिए आपको बहुत अच्छी अंग्रेजी आना जरूरी नहीं है। अगर आप सामान्य अंग्रेजी पढ़-लिख सकते हैं तो आप डिजिटल मार्केटिंग भी सिख सकते हैं।

    Picture of Parmveer Singh Sandhu

    Parmveer Singh Sandhu

    He is the Founder & Chief Mentor at Quibus Trainings. His story is an inspiration to many millennials. From being a physics teacher to founding two companies was not a piece of cake. Recently, he was awarded ‘Times Power Icon Award of 2022’ from ‘Times of India’ for his quality work in digital marketing training.
    Speak To A Counsellor

    Kindly fill your details to get a call from our counsellor. Ask your questions or Schedule a personal meeting.